Ce diaporama a bien été signalé.
Nous utilisons votre profil LinkedIn et vos données d’activité pour vous proposer des publicités personnalisées et pertinentes. Vous pouvez changer vos préférences de publicités à tout moment.

Polity topic-rajbhasha-4 b

4 448 vues

Publié le

Polity topic-rajbhasha-4b

Publié dans : Formation
  • Identifiez-vous pour voir les commentaires

Polity topic-rajbhasha-4 b

  1. 1. राजभाषा भारतीय राजव्यवस्था एवं अभभशासन www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  2. 2. • संविधान के भाग XVII में अनुच्छेद 343 से 351 राजभाषा से संबंधधत हैं। • इनके उपबंधों को चार शीषषकों में विभाजजत ककया गया है-संघ की भाषा, क्षेत्रीय भाषाएं न्यायपालिका और विधध के पाठ भाषा एिं अन्य विशेष ननदेशों की भाषा । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  3. 3. संघ की भाषा • देिनागरी लिवप में लिखी जाने िािी हहंदी संघ की है परंतु संघ द्िारा आधधकाररक रूप से प्रयोग की जाने िािी संख्याओं का रूप अंतराषष्ट्रीय होगा, न कक देिनागरी । • हािांकक संविधान प्रारंभ होने के 15 िषों (1950 से 1965 तक) अंग्रेजी का प्रयोग आधधकाररक रूप उन प्रयोजनों के लिए जारी रहेगा जजनके लिए 1950 से पूिष इसका उपयोग में होता था । • पंद्रह िषों के उपरांत भी संघ प्रयोजन विशेष के लिए अंग्रेजी का प्रयोग कर सकता है । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  4. 4. क्षेत्रीय भाषा संविधान में राज्यों के लिए ककसी विशेष का उल्िेख नहीं है। इस संबंध में कु छ ननम्नलिखखत उपबंध हैं- • ककसी राज्य की विधानयका उस राज्य के रूप में ककसी एक या एक से अधधक भाषा अथिा हहंदी का चुनाि कर सकती है। जब तक यह न हो उस राज्य की आधधकाररक भाषा अंग्रेजी होगी । • जब राष्ट्रपनत (यहद मांग की जाए) इस बात पर संतुष्ट्ट हो कक ककसी राज्य की जनसंख्या का अधधकतर भाग उनके द्िारा बोिी जाने िािी भाषा को राज्य द्िारा मान्यता चाहता हो, तो िह ऐसी भाषा को राज्य के रूप में मान्यता देने का ननदेश दे सकता है। इस उपबंध का उद्देश्य राज्य के अल्पसंख्यको के भाषायी हहतों की सुरक्षा करना है । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  5. 5. न्यायपाभिका की भाषा ववधि पाठ संविधान में न्यायपालिका एिं विधानयका को भाषा के संबंध में ककए गए उपबंध ननम्मलिखखत हैं- जब तक संसद अन्यथा यह व्यिस्था न दे, ननम्नलिखखत कायष के िि अंग्रेजी भाषा में होंगे o उच्चतम न्यायािय ि प्रत्येक उच्च न्यायािय की कायषिाही। o कें द्र ि राज्य स्तर पर सभी विधेयक, अधधननयम, अध्यादेश, आदेश, ननयम ि उप ननयमों के आधधकाररक पाठ Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  6. 6. न्यायपाभिका की भाषा ववधि पाठ • हािांकक ककसी राज्य का राज्यपाि, राष्ट्रपनत की पूिाषनुमनत से हहंदी अथिा ककसी राज्य की ककसी अन्य राजभाषा को उच्च न्यायािय की कायषिाही की भाषा का दजाष दे सकता है परंतु यह न्यायािय द्िारा हदए गए ननर्षयों, आज्ञाओं ि इसके द्िारा पाररत आदेशों पर िागू नहीं होगा। अन्य शब्दों में, न्यायािय द्िारा हदए गए ननर्षय, आज्ञा अथिा आदेश के िि अंग्रेजी में ही होंगे (जब तक संसद अन्यथा व्यिस्था न दे)। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  7. 7. ववशेष ननर्देश संविधान में भाषायी अल्पसंख्यकों के हहतों की सुरक्षा ि हहंदी भाषा के उत्पान के लिए कु छ विलशष्ट्ट ननदेश हदए गए हैं- भाषायी अल्पसंख्यकों की सुरक्षा इस संबंध में संविधान में ननम्नलिखखत उपबंध हैं- • प्रत्येक राज्य अथिा स्थानीय प्राधधकरर् को राज्य में भाषायी अल्पसंखक समूह के बच्चों को प्राथलमक स्तर पर उनकी मातृभाषा में लशक्षा देने हेतु उपयुक्त सुविधाएं उपिब्ध करानी चाहहए। राष्ट्रपनत इस संदभष में आिश्यक ननदेश दे सकता है। Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  8. 8. ववशेष ननर्देश • भाषायी अल्पसंख्यकों के लिए संविधान में ककए गए प्रािधानों से संबंधधत मामिों की जांच और उनकी ररपोटष के लिए राष्ट्रपनत को एक विशेष अधधकारी की ननयुजक्त करनी चाहहए। राष्ट्रपनत को यह ररपोटष को संसद में प्रस्तुत करनी चाहहए तथा संबंधधत राज्य सरकारों को भेजनी चाहहए । Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  9. 9. ऑनिाइन कोध ंग के बारे में अधिक जानकारी के भिए यहां क्लिक करें http://iasexamportal.com/civilservices/courses/ias-pre/csat- paper-1-hindi हार्ड कॉपी में सामान्य अध्ययन प्रारंभभक परीक्षा (स्टर्ी ककट - पेपर - 1 (Paper - 1) खरीर्दने के भिए यहां क्लिक करें http://iasexamportal.com/civilservices/study-kit/ias-pre/csat- paper-1-hindi Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM
  10. 10. IASEXAMPORTAL Other Online Courses Online Course for Civil Services Preliminary Examination  सीसैट (CSAT) प्रारंलभक परीक्षा के लिए ऑनिाइन कोधचंग (पेपर - 2)  Online Coaching for CSAT Paper - 1 (GS)  Online Coaching for CSAT Paper - 2 (CSAT) Online Course for Civil Services Mains Examination General Studies Mains (NEW PATTERN - Paper 2,3,4,5) Public Administration for Mains For Know More Click Here: http://iasexamportal.com/civilservices/courses Click Here To Join Online IAS Pre Online Coaching www.iasexamportal.com © IASEXAMPORTAL.COM

×