Ce diaporama a bien été signalé.
Nous utilisons votre profil LinkedIn et vos données d’activité pour vous proposer des publicités personnalisées et pertinentes. Vous pouvez changer vos préférences de publicités à tout moment.
सूचना प्रौद्योगिकी और ह िंदी
आिंकड़ों की प्राप्ति, सूचना (इिंफार्मेशन) सिंग्र , सुरक्षा,
पररवितन, आदान-प्रदान, अध्ययन, डिज...
कारक
 अितचािक प्रौद्योगिकी : इंटीग्रेट परिपथों का लघुकिण,
कम्प्यूटटंग शक्ति में वृद्धि, उन्नि क्षमिा युति
एकीकृ ि परिपथों...
सूचना प्रौद्योगिकी का र्म त्त्व
 सूचना प्रौद्योधगकी, सेवा अथतििंत्र (Service Economy) का
आिाि है।
 वपछडे देशों के सामाक्...
सूचना प्रौद्योगिकी के ववलिधन घटक
 कं ्यूटि हाडिवेयि प्रौद्योधगकी इसके अन्िगिि माइक्रो-
कम्प्यूटि, सविि, बडे मेनफ्रे म कम्...
सूचना प्रौद्योगिकी का प्रिाव
 सूचना प्रौद्योधगकी ने पूिी िििी को एक गााँव बना टदया है।
इसने ववश्व की ववलभन्न अथिव्यवस्थाओ...
ह धदी िाषा र्में पूरा सिंिणक
 कं ्यूटि को पूणि रूप से टहंदी में बनाने के ललए 2005 में
माईक्रोसॉफ्ट ने ववन्डोज़ XP के ललए ...
ह धदी कम्तयूटरी का र्म त्व
 आज के युग में वे ही भाषाएाँ बच पायेंगी जो संगणक
औि अन्ििजाल से जुडी होंगी; क्जनमें ववववि क्षे...
ह धदी कम्तयूटरी के र्मुख्य क्षेत्र
 भाषा सम्पपाटदत्र - टहन्दी (देवनागिी) में संगणक पि ललखने का
औजाि
 टहन्दी वििनी जांचक
...
अन्य- ह धदी कम्तयूटरी के क्षेत्र
 देवनागिी का टाइप-सेटटंग िथा फाण्ट डडजाइन देवनागिी का कै िेतटि-
इनकोडडंग एवं संघनन (comp...
अन्य- ह धदी कम्तयूटरी के क्षेत्र
 Spoken language processing, understanding,
generation and translation Rich transcriptio...
ह धदी कम्तयूहटिंि के प्रर्मुख पडाव
 १९८३ - डॉस आिारिि टहन्दी शब्द संसािक अक्षि, शब्दित्न इत्याटद का पदापिण।
 १९८३ - सी-ड...
ह धदी कम्तयूहटिंि के प्रर्मुख पडाव
 २००० – टहन्दी समाचाि पत्र इंटिनेट की ओि, यूननकोड टहन्दी का पदापिण। इंटिनेटी टहन्दी मे...
ह धदी कम्तयूहटिंि के प्रर्मुख पडाव
 माचि २००७ - गूगल समाचाि सेवा टहन्दी में शुरु।[3]
 जुलाई २००७ - टहन्दी का श्रुिलेखन स...
ह धदी कम्तयूहटिंि के प्रर्मुख पडाव
 २०११ - गूगल बुतस टहन्दी में उपलब्ि। अिववन्द कु माि का टहन्दी-
अंग्रेजी-टहन्दी समान्िि...
टहन्दी टाइवपंग
 फोनेहटक टाइवपिंि
 बर आइऍर्मई • इप्ण्िक आइऍर्मई • िूिि आइऍर्मई • र्माइक्रोसॉफ्ट इप्ण्िक टूि • कै फे ह धदी...
टहंदी के संसािन
 टहन्दी समथिन इक्ण्डक ऍतसपी • टहन्दी टूलर्कट • मोबाइल उपकिणों में टहन्दी समथिन •
आयिॉन्स टहन्दी सपोटि • इ...
र्माइक्रोसॉफ्ट ववण्िोज़
 माइक्रोसॉफ्ट ववण्डोज़ सवािधिक लोकवप्रय डैस्कटॉप प्रचालन िन्त्र (ऑपिेटटंग
लसस्टम) है। ववण्डोज़ ऍतस...
ललनतस
 ललनतस के अधिकिि नये ववििणों में टहन्दी आटद
भाििीय भाषाओं के प्रदशिन हेिु समथिन पहले से सक्षम
होिा है। हालााँर्क टै...
मॅक ओऍस
 ऍपल के डैस्कटॉप ऑपिेटटंग लसस्टम मॅक ओऍस में
संस्किण १० (ओऍस ऍतस) से भाििीय भाषाई समथिन
टदया जाना शुरु हुआ था। सं...
आइओऍस
 आइओऍस ऍपल का मोबाइल ऑपिेटटंग लसस्टम है जो
र्क आइफोन (ऍपल का स्माटिफोन), आइपॉड टच (ऍपल
का पोटेबल म्पयूक्जक ्लेयि) ि...
ऍण्रॉइि
 ऍण्रॉइड गूगल का मोबाइल ऑपिेटटंग लसस्टम है जो र्क
ववलभन्न स्माटिफोन एवं टैबलेट ननमाििाओं द्वािा अपने
उपकिणों में ...
ह धदी सिंिणन सम्बधिी औजार
 टहन्दी संगणन औजािों की बाि होने पि सबसे पहले टंकण
औजािों की बाि आिी है। लगभग सभी ऑपिेटटंग लसस्...
ह धदी सिंिणन सम्बधिी औजार
 ओसीआि िकनीक र्कसी इमेज में से टैतस्ट को पहचान कि उसे
सम्पपादन योग्य टैतस्ट में बदलिी है। ओसीआि...
ह धदी सिंिणन सम्बधिी औजार
 दूसिी ओि वाक् से पाठ ऐसे िन्त्र होिे हैं जो माइक्रोफोन में बोली गयी
ध्वनन को इनपुट के िौि पि ल...
ह धदी वेबसाइटें एविं वेब सेवायें
 यूननकोड के आगमन के बाद टहन्दी वेबसाइटों की संख्या
िेजी से बढ़ी है। पहले जहााँ अधिकिि टह...
ह धदी वेबसाइटें एविं वेब सेवायें
 वििमान में अधिकिि सचि इंजन यथा गूगल, बबंग आटद
टहन्दी यूननकोड खोज का समथिन कििे हैं। टहन...
डिप्जटि ह धदी का िववष्य
 कम्प्यूटि, लैपटॉप, स्माटिफोन िथा टैबलेट आटद डडक्जटल उपकिण
हमािे दैननक जीवन का टहस्सा बन चुके हैं...
डिप्जटि ह धदी का िववष्य
 वििमान में ववण्डोज़ युति कम्प्यूटिों में ववण्डोज़ ऍतसपी औि ववण्डोज़
७ की लगभग बिाबि टहस्सेदािी ह...
डिप्जटि ह धदी का िववष्य
 टहन्दी संगणन सम्पबन्िी सॉफ्टवेयि औजािों की बाि किें
िो टहन्दी टंकण, मशीनी लल्यन्ििण, मशीनी अनुवा...
Prochain SlideShare
Chargement dans…5
×

सूचना प्रौद्योगिकी और हिंदी

9 334 vues

Publié le

सूचना प्रौद्योगिकी और हिंदी

Publié dans : Formation
  • Did you try ⇒ www.WritePaper.info ⇐?. They know how to do an amazing essay, research papers or dissertations.
       Répondre 
    Voulez-vous vraiment ?  Oui  Non
    Votre message apparaîtra ici
  • You can ask here for a help. They helped me a lot an i`m highly satisfied with quality of work done. I can promise you 100% un-plagiarized text and good experts there. Use with pleasure! ⇒ www.HelpWriting.net ⇐
       Répondre 
    Voulez-vous vraiment ?  Oui  Non
    Votre message apparaîtra ici
  • Sex in your area is here: ❶❶❶ http://bit.ly/369VOVb ❶❶❶
       Répondre 
    Voulez-vous vraiment ?  Oui  Non
    Votre message apparaîtra ici
  • Dating for everyone is here: ♥♥♥ http://bit.ly/369VOVb ♥♥♥
       Répondre 
    Voulez-vous vraiment ?  Oui  Non
    Votre message apparaîtra ici

सूचना प्रौद्योगिकी और हिंदी

  1. 1. सूचना प्रौद्योगिकी और ह िंदी आिंकड़ों की प्राप्ति, सूचना (इिंफार्मेशन) सिंग्र , सुरक्षा, पररवितन, आदान-प्रदान, अध्ययन, डिजाइन आहद कायों िथा इन कायों के ननष्पादन के लिये आवश्यक किं तयूटर ाितवेयर एविं साफ्टवेयर अनुप्रयोि़ों से सम्बप्धिि ै। सूचना प्रौद्योगिकी किं तयूटर पर आिाररि सूचना-प्रणािी का आिार ै। सूचना प्रौद्योगिकी, वितर्मान सर्मय र्में वाणणज्य और व्यापार का अलिधन अिंि बन ियी ै। सिंचार क्राप्धि के फिस्वरूप अब इिेक्ट्राननक सिंचार को िी सूचना प्रौद्योगिकी का एक प्रर्मुख घटक र्माना जाने ििा ै और इसे सूचना एविं सिंचार प्रौद्योगिकी (Information and Communication Technology, ICT) िी क ा जािा ै। एक उद्योि के िौर पर य एक उिरिा ुआ क्षेत्र ै।
  2. 2. कारक  अितचािक प्रौद्योगिकी : इंटीग्रेट परिपथों का लघुकिण, कम्प्यूटटंग शक्ति में वृद्धि, उन्नि क्षमिा युति एकीकृ ि परिपथों का ववकास  सूचना िण्िारण : आंकडा भण्डािण क्षमिा में अत्यधिक वृद्धि हुई है।  नेटवर्किं ि : प्रकाशीय िंिुओं (आक््टकल फाइबि) का िकनीकी में अत्यधिक ववकास होने के कािण नेटवर्किं ग सस्िी, िेज औि आसान हो गयी है।  साफ्टवेयर िकनीकी : ननि नए-नए औि उपयोगी साफ्टवेयिों के आने से सूचना प्रौद्योधगकी औि अधिक उपयोगी बन गयी है।
  3. 3. सूचना प्रौद्योगिकी का र्म त्त्व  सूचना प्रौद्योधगकी, सेवा अथतििंत्र (Service Economy) का आिाि है।  वपछडे देशों के सामाक्जक औि आधथिक ववकास के ललए सूचना प्रौद्योधगकी एक सम्पयक िकनीकी (appropriate technology) है।  गिीब जनिा को सूचना-सम्पपन्न बनाकि ही ननििनिा का उन्मूलन र्कया जा सकिा है।  सूचना-संपन्निा से सशक्तिकिण (empowerment) होिा है।  सूचना िकनीकी, प्रशासन औि सिकाि में पािदलशििा लािी है, इससे भ्रष्टाचाि को कम किने में सहायिा लमलिी है।  सूचना िकनीक का प्रयोग योजना बनाने, नीनि ननिाििण िथा ननणिय लेने में होिा है।  यह नये िोजगािों का सृजन कििी है।
  4. 4. सूचना प्रौद्योगिकी के ववलिधन घटक  कं ्यूटि हाडिवेयि प्रौद्योधगकी इसके अन्िगिि माइक्रो- कम्प्यूटि, सविि, बडे मेनफ्रे म कम्प्यूटि के साथ-साथ इनपुट, आउटपुट एवं संग्रह (storage) किने वाली युक्तियााँ (devices) आिीं हैं।  कं ्यूटि साफ्टवेयि प्रौद्योधगकी इसके अन्िगिि प्रचालन प्रणाली (Operating System), वेब ब्राउजि, डेटाबेस प्रबन्िन प्रणाली (DBMS), सविि िथा व्यापारिक/वाणणक्ययक साफ्टवेयि आिे हैं।  दूिसंचाि व नेटवकि प्रौद्योधगकी इसके अन्िगिि दूिसंचाि के माध्यम, प्रक्रमक (Processor) िथा इंटिनेट से जुडने के ललये िाि या बेिाि पि आिारिि साफ्टवेयि, नेटवकि - सुिक्षा, सूचना का कू टन (र्क्र्टोग्राफी) आटद हैं।  मानव संसािन िंत्र प्रशासक (System Administrator), नेटवकि प्रशासक (Network Administrator) आटद
  5. 5. सूचना प्रौद्योगिकी का प्रिाव  सूचना प्रौद्योधगकी ने पूिी िििी को एक गााँव बना टदया है। इसने ववश्व की ववलभन्न अथिव्यवस्थाओं को जोडकि एक वैक्श्वक अथिव्यवस्था को जन्म टदया है। यह नवीन अथिव्यवस्था अधिकाधिक रूप से सूचना के िचनात्मक व्यवस्था व ववििण पि ननभिि है। इसके कािण व्यापाि औि वाणणयय में सूचना का महत्व अत्यधिक बढ गया है। इसीललए इस अथिव्यवस्था को सूचना अथतव्यवस्था (Information Economy) या ज्ञान अथतव्यवस्था (Knowledge Economy) भी कहने लगे हैं। वस्िुओं के उत्पादन (manufacturing) पि आिारिि पिम्पपिागि अथिव्यवस्था कमजोि पडिी जा िही है औि सूचना पि आिारिि सेवा अथिव्यवस्था (service economy) ननिन्िि आगे बढिी जा िही है।  सूचना क्राक्न्ि से समाज के सम्पपूणि कायिकलाप प्रभाववि हुए हैं - िमि, लशक्षा (e-learning), स्वास््य (e-health), व्यापाि (e-commerce), प्रशासन, सिकाि (e-govermance), उद्योग, अनुसंिान व ववकास, संगठन, प्रचाि आटद सब के सब क्षेत्रों में कायापलट हो गया है। आज का समाज सूचना समाज कहलाने लगा है।
  6. 6. ह धदी िाषा र्में पूरा सिंिणक  कं ्यूटि को पूणि रूप से टहंदी में बनाने के ललए 2005 में माईक्रोसॉफ्ट ने ववन्डोज़ XP के ललए लीप (Language Interface Pack) का ननमािण र्कया क्जससे की कं ्यूटि को पूणि रूप से टहंदी में बनाया जा सके । 2007 में माईक्रोसॉफ्ट ने ववन्डोज़ ववस्टा औि 2011 में ववन्डोज़ 7 के ललए भी लीप का ननमाणि र्कया। लीप को डाउनलोड किने के ललए यहां पि जाए-  ववन्डोज़ एतसपी- http://www.microsoft.com/downloads/details.aspx?displa ylang=hi&FamilyID=0db2e8f9-79c4-4625-a07a- 0cc1b341be7c ववन्डोज़ ववस्टा- http://www.microsoft.com/downloads/details.aspx?Famil yID=0e21eb7b-e01a-4fcc-b7f1- 30e419da7f5b&displaylang=hi ववन्डोज़ 7- http://www.microsoft.com/downloads/details.aspx?Famil yID=a1a48de1-e264-48d6-8439- ab7139c9c14d&displaylang=hi साथ ही साथ कु छ ललनतसों (जैसे- BOSS Linux, Fedora Core, Ubuntu आटद.) में भी टहंदी इंटिफे स मौजूद है।
  7. 7. ह धदी कम्तयूटरी का र्म त्व  आज के युग में वे ही भाषाएाँ बच पायेंगी जो संगणक औि अन्ििजाल से जुडी होंगी; क्जनमें ववववि क्षेत्रों का ज्ञान आबलाइन उपलब्ि होगा। इसके ललये ििह-ििह के साफ्टवेयि चाटहये जो ललखने, खोजने, सहेजने, इसका रूप बदलने आटद में सुवविा प्रदान किें। इसी ललये टहन्दी कम्प्यूटिी के साफ्टवेयिों का बहुि ही महत्व है।
  8. 8. ह धदी कम्तयूटरी के र्मुख्य क्षेत्र  भाषा सम्पपाटदत्र - टहन्दी (देवनागिी) में संगणक पि ललखने का औजाि  टहन्दी वििनी जांचक  फॉण्ट परिवििक  ललवप परिवििक - देवनागिी को/से अन्य ललवपयों में परिवििन  अनुवादक - टहन्दी से अन्य भाषाओं में अनुवाद  टहन्दी टेतस्ट को वाक में बदलने का साफ्टवेयि (टहन्दी टीटीएस्)  टहन्दी में बोली गयी बाि को टहन्दी पाठ में बदलने वाला साफ्टवेयि (वाक से पाठ)  देवनागिी का ओसीआि - र्कसी छवव में देवनागिी में ललणखि सामग्री को संगणक से पढ़ने योग्य टेतस्ट में बदलना  टहन्दी के ववववि प्रकाि के शब्दकोश  टहन्दी के ववश्वकोश  टहन्दी की ई-पुस्िकें  टहन्दी में खोज  टहन्दी में ईमेल  उपयोगी साफ्टवेयिों का स्थानीकिण (localization)
  9. 9. अन्य- ह धदी कम्तयूटरी के क्षेत्र  देवनागिी का टाइप-सेटटंग िथा फाण्ट डडजाइन देवनागिी का कै िेतटि- इनकोडडंग एवं संघनन (compression) टहन्दी की फोनोलोजी एवं माफोलोजी (Phonology and morphology) Lexical semantics and word sense Grammars, syntax, semantics and discourse Word segmentation, chunking, tagging and syntactic parsing Word sense disambiguation, semantic role labeling and semantic parsing Discourse analysis Language, linguistic and speech resource development मशीन द्वािा टहन्दी सीखना (Machine learning for Hindi) टेतस्ट का ववश्लेषण, उसे समझना, सािांश ननकालना एवं टेस्ट उत्पादन (Text analysis, टेunderstanding, summarization and generation) Text mining and information extraction, summarization and retrieval Text entailment and paraphrasing Text Sentiment analysis, opinion mining and question answering मशीनी अनुवाद एवं बहुभाषी प्रसंस्किण (Machine translation and multilingual processing) Linguistic, psychological and mathematical models of language, computational psycholinguistics, computational linguistics and mathematical linguistics Language modeling, statistical methods in natural language processing and speech processing
  10. 10. अन्य- ह धदी कम्तयूटरी के क्षेत्र  Spoken language processing, understanding, generation and translation Rich transcription and spoken information retrieval वाक की पहचान एवं संश्लेषण (Speech recognition and synthesis) कम्प्यूटि की सहायिा से टहन्दी सीखना एवं लसखाना जैवधचर्कत्सकीय (biomedical), िासायननक या ववधिक (legal) क्षेत्रों में प्रयुति टहन्दी पाठ का प्रसंस्किण टहन्दी कम्प्यूटिी के ललये ववशेष प्रकाि का हाडिवेयि एवं साफ्टवेयि का ववकास टहन्दी के क्रासवडि टहन्दी के व्युत्क्रम शब्दकोश (reverse dictionaries)
  11. 11. ह धदी कम्तयूहटिंि के प्रर्मुख पडाव  १९८३ - डॉस आिारिि टहन्दी शब्द संसािक अक्षि, शब्दित्न इत्याटद का पदापिण।  १९८३ - सी-डैक द्वािा क्जस्ट (GIST - Graphics and Intelligence based Script Technology) का ववकास।  भाििीय ललवपयों के ललये इस्की मानक जािी।  १९८६ - भाििीय भाषाओं के ललये इनक्स्क्र्ट कु ञ्जीपटल मानक स्वीकृ ि।  एऍलपी (एप्रॅतस लैंग्वेज़ प्रोसैसि) - भािि सिकाि के संस्थान सी-डैक का डॉस-आिारिि स्विंत्र बहुभाषी टहन्दी शब्द संसािक ; लगभग उिना ही शक्तिशाली औि सुवविा-संपन्न क्जिना र्क उस समय वडिस्टाि नामक अंग्रेज़ी सॉफ्टवेयि था।  १९९१ में यूननकोड का आववभािव। अतटूबि १९९१ में यूननकोड का पहला संस्किण १.०.० जािी क्जसमें नौ भाििीय ललवपयााँ देवनागिी, बंगाली, गुजिािी, गुरुमुखी, िलमल, िेलुगू, कन्नड, मलयालम िथा ओडडया शालमल की गयी।[1]  ववंडोज़ १.० (१९८५) िथा माइक्रोसॉफ्ट ऑर्फस के पहले संस्किण (१९९०) के बाद १९९३ में माइक्रोसॉफ्ट ऑर्फस प्रोफै शनल के आने के बाद ८-बबट टहन्दी फॉण्टों से ववंडोज़ में टहन्दी में वडि प्रोसैलसंग सम्पभव।  आइऍसऍम ऑर्फस (इसकी मदद से मौजूदा सॉफ्टवेयि पैके ज में भाििीय भाषा में काम र्कया जा सकिा है)  लीप ऑर्फस २००० (सम्पपूणि भाििीय भाषी सॉफ्टवेयि)  १९९५ के आसपास इंटिनेट पि टहन्दी का पदापिण – िोमन व इमेज फाइलों के रूप में िथा बाद में डायनैलमक फॉण्टों के जरिये।  १९९५ - सीडैक लीप ऑर्फस, श्रीललवप िथा अक्षि फॉि ववंडोज़ आटद वडिप्रोसैसिों का आगमन।  १४ लसिंबि १९९६ में टहन्दी टदवस के अवसि पि ित्कालीन िक्षामंत्री मुलायम लसंह यादव ने पीसी-डॉस के टहन्दी संस्किण का ववमोचन र्कया क्जसमें एक टहन्दी प्रोग्रालमंग भाषा भी शालमल थी।
  12. 12. ह धदी कम्तयूहटिंि के प्रर्मुख पडाव  २००० – टहन्दी समाचाि पत्र इंटिनेट की ओि, यूननकोड टहन्दी का पदापिण। इंटिनेटी टहन्दी में क्राक्न्ि की शुरूआि। सीडैक के टहन्दी ऑपिेटटंग लसस्टम इंडडतस की शुरूआि।  ववंडोज़ २००० औि माइक्रोसॉफ्ट ऑर्फस के दक्षक्षण एलशयाई संस्किण में टहन्दी समथिन प्रदान र्कया गया।  २००० बालेन्दु शमाि दािीच द्वािा ववकलसि टहंदी शब्द संसािक 'माध्यम' ननिःशुल्क ववििण एवं प्रयोग के ललए जािी।  २९ अप्रैल २००२, सी-डैक द्वािा टहन्दी ओसीआि सॉफ्टवेयि धचत्रांकन का ववमोचन र्कया गया।[2]  २००२ - ललनतस ऑपिेटटंग लसस्टम औि अन्य प्रोग्रामों के टहन्दीकिण की शुरुआि।  जुलाई, २००३ - टहन्दी ववर्कपीडडया आिम्पभ।  २००३ - टहन्दी (भाििीय बहुभाषायी) ललनतस ऑपिेटटंग लसस्टम लमलन जािी। टहन्दी वििनी जााँच सुवविा युति माइक्रोसॉफ्ट का ऑर्फस सुइट टहन्दी में जािी। इसी वषि ओपनऑर्फस का टहन्दी इंटिफे स युति संस्किण १.१ भी जािी।  २००३ - श्रीललवप, अक्षि नवीन के यूननकोड संस्किण जािी। अकाउंटटंग सॉफ्टवेयि टैली में टहन्दी समथिन। टहन्दी के शब्दकोश, प्रोग्रालमंग औजाि उपलब्ि।  २००३ – इंटिनेट/डैस्कटॉप सचि टहन्दी में उपलब्ि। टहन्दी ब्लॉगों का पदापिण, जीमेल के जरिये टहन्दी में ईमेल की सुवविा।  २००४ - िैड हैट ने पााँच भाििीय भाषाओं हेिु मुति स्रोि लोटहि फॉण्ट जािी र्कये क्जनका आगे जाकि अनेक ललनतस ववििणों में प्रयोग हुआ।  २००५ – माइक्रोसॉफ्ट ऍतसपी ऑपिेटटंग लसस्टम का खास टहन्दी का स्टाटिि संस्किण जािी। िमाम ललनतस ववििणों िैडहैट, उबुंटू के टहन्दी संस्किण जािी।  २००६ – माइकोसॉफ्ट, ऍमऍसऍन औि याहू टहन्दी में जािी।  जनविी २००७ में ववंडोज़ ववस्िा जािी, पहला ववंडोज़ संस्किण क्जसमें टहन्दी समथिन अन्िननिलमि है। बाइ डडफॉल्ट समथिन लागू िहिा है, अलग से कोई सैटटंग नही किनी पडिी, बस टाइवपंग हेिु कीबोडि जोडना पडिा है।
  13. 13. ह धदी कम्तयूहटिंि के प्रर्मुख पडाव  माचि २००७ - गूगल समाचाि सेवा टहन्दी में शुरु।[3]  जुलाई २००७ - टहन्दी का श्रुिलेखन सॉफ्टवेयि (स्पीच टू टेतस्ट) सी-डैक द्वािा ववमोधचि।  अगस्ि २००७ - गूगल ट्ााँसललट्ेशन, गूगल का डडतशनिी आिारिि ऑनलाइन फोनेटटक टाइवपंग औजाि जािी।[4]  अतटूबि २००७ - गूगल ट्ााँसललट्ेशन िकनीक से गूगल सचि में िोमन शब्द टाइप किने पि टहन्दी में सजैशन।[5]  २००७ - इंटिनेट पि चीनी औि अंग्रेजी भाषा के बाद टहन्दी सवािधिक लोकवप्रय िथा प्रयोग की जाने वाली भाषा।  मई २००८ - गूगल ट्ााँसलेट में टहन्दी से/को अन्य प्रमुख ववदेशी भाषाओं में अनुवाद की सुवविा।[6]  १७ जून २००९, आइओऍस (ित्कालीन नाम आइफोन ओऍस) संस्किण ३ में आंलशक टहन्दी प्रदशिन समथिन आया।  ३१ अगस्ि २००९ - टहन्दी ववर्कवपडडया पि ४० हजाि लेख पूिे हुए।  ३० अतटूबि २००९, आइकै न (ICANN) ने लसयोल में देवनागिी सटहि चीनी, कोरियाई एवं टहब्रू ललवपयों को यूआिएल में प्रयोग किने की अनुमनि दे दी।  २०१० की िीसिी निमाही में ब्लैकबेिी ओऍस संस्किण ६ में टहन्दी प्रदशिन समथिन एवं टहन्दी वचुिअल कीबोडि आया।  ३ मई २०१०, टचस्क्रीन डडवाइसों पि टहन्दी टंकण हेिु टचनागिी नामक ऑनलाइन टहन्दी कीबोडि जािी।[7]  २१ जून २०१०, आइओऍस ४ में पूणि टहन्दी प्रदशिन समथिन आाया।  अतटूबि २०१०, भाििीय रुपया धचह्न यूननकोड ६.० में शालमल र्कया गया।
  14. 14. ह धदी कम्तयूहटिंि के प्रर्मुख पडाव  २०११ - गूगल बुतस टहन्दी में उपलब्ि। अिववन्द कु माि का टहन्दी- अंग्रेजी-टहन्दी समान्िि कोश अिववन्द-लैक्तसकन ऑनलाइन जािी।  अप्रैल २०११, वैज्ञाननक िथा िकनीकी शब्दावली आयोग ने टहन्दी शब्दावललयााँ आनलाइन की।  ६ जून २०११, आइओऍस ५ में टहन्दी कीबोडि आया।  ११ जून २०११, इक्न्स्क्र्ट कीबोडि लेआउट द्वािा चाणतय, कृ निदेव आटद जैसे नॉन-यूननकोड फॉण्टों में टाइप किने हेिु पहला इनपुट मैथड ऍडीटि ई-पक्ण्डि आइऍमई जािी।[8]  जून २०११, गूगल ट्ााँसलेट में पााँच भाििीय भाषाओं बंगाली, गुजिािी, कन्नड, िलमल िथा िेलुगू शालमल।[9]  ३० अगस्ि २०११, टहन्दी ववर्कपीडडया पि एक लाख लेख से ऊपि हुये।  १४ लसिम्पबि २०११, - ट्ववटि टहन्दी टदवस के टदन टहन्दी में जािी।[10]  अतटूबि २०११, ऍण्रॉइड ४.० (आइस क्रीम सैंडववच) में काफी हद िक टहन्दी, िलमल िथा बंगाली समथिन आया। लोटहि देवनागिी टहन्दी फॉण्ट शालमल र्कया गया। स्टॉक ऍण्रॉइड ब्राउजि में टहन्दी, िलमल एवं बंगाली का पूणि समथिन।  मई २०१२, गालमिन ने टहन्दी भाषा सक्षम नेवीगेशन डडवाइस जािी र्कये।[11]  मई २०१२, फायिफॉतस का मोबाइल ब्राउजि टहन्दी में जािी।
  15. 15. टहन्दी टाइवपंग  फोनेहटक टाइवपिंि  बर आइऍर्मई • इप्ण्िक आइऍर्मई • िूिि आइऍर्मई • र्माइक्रोसॉफ्ट इप्ण्िक टूि • कै फे ह धदी टाइवपिंि टूि • बोिनािरी  इप्धस्क्रतट टाइवपिंि  इनप्स्क्रतट कीबोित • इप्ण्िक आइऍर्मई • ई-पप्ण्िि आइऍर्मई • कै फे ह धदी टाइवपिंि टूि • टचनािरी  रेलर्मिंिटन टाइवपिंि  रेलर्मिंिटन कु ञ्जीपटि • इप्ण्िक आइऍर्मई • कै फे ह धदी टाइवपिंि टूि  ऑनिाइन औजार  िूिि इप्ण्िक लितयधिरण • प्क्ट्विपैि • यूनननािरी (सम्पाहदत्र)  ऑफिाइन औजार  िूिि आइऍर्मई • र्माइक्रोसॉफ्ट इप्ण्िक टूि • बर आइऍर्मई • इप्ण्िक आइऍर्मई • कै फे ह धदी टाइवपिंि टूि  नॉन-यूननकोि टाइवपिंि औजार  ई-पप्ण्िि आइऍर्मई • आइऍसऍर्म • बर िायरॅक्ट्ट • ह धदीपैि • बर • इप्ण्िकतिस • र्माध्यर्म (सम्पाहदत्र)  ह धदी फॉण्ट  र्मिंिि • रघु • सिंस्कृ ि २००३ • अपराप्जिा • कोर्किा • उत्सा • िोह ि • कृ निदेव • चाणक्ट्य • वॉकर्मैन-चाणक्ट्य • सुशा  फॉण्ट पररवितक  हटबबि • ई-पप्ण्िि कधवटतर • लसि कधवटतर • प्रखर देवनािरी फॉण्ट पररवितक • पररवितन • रूपाधिर  अधय  आइऍर्मई • वचुतअि कीबोित • टच टाइवपिंि • टाइपराइटर • प्रर्मुख सम्पाहदत्र • ह धदी शब्द सिंसािक • र्माइक्रोसॉफ्ट ऑर्फस ह धदी २००३ • रोर्मनािरी • यूनननािरी
  16. 16. टहंदी के संसािन  टहन्दी समथिन इक्ण्डक ऍतसपी • टहन्दी टूलर्कट • मोबाइल उपकिणों में टहन्दी समथिन • आयिॉन्स टहन्दी सपोटि • इक्ण्डक यूननकोड • यूननस्क्राइब • टहन्दी में ईमेल  लल्यन्ििण आइट्ााँस • अन्ििािष्ट्ीय संस्कृ ि लल्यन्ििण वणिमाला • मशीनी लल्यन्ििण • धगिधगट (लल्यन्ििण) • भोलमयो • गूगल ललवप परिवििक  मशीनी अनुवाद गूगल अनुवाद • मन्त्र-िाजभाषा  टहन्दी पाठ से वाक िन्त्र वाचक (पाठ से वाक) • टहन्दीवाणी • ध्वनन (पाठ से वाक) • फै क्स्टवल (पाठ से वाक) • वॉजमी • शक्ति (पाठ से वाक)  टहन्दी वाक से पाठ िन्त्र श्रुिलेखन सॉफ्टवेयि (श्रुिलेखन-िाजभाषा • मन्त्र-िाजभाषा) • वाचान्िि-िाजभाषा • टहन्दी एऍसआि  टहन्दी ओसीआि टेसिैतट • संस्कृ ि ओसीआि • धचत्रांकन  प्रचालन िन्त्र भािि ऑपिेटटंग लसस्टम सॉल्यूशन्स • ववण्डोज ऍतसपी टहन्दी संस्किण  स्थानीकिण लैंग्वेज इंटिफे स पैक • ववण्डोज टहन्दी ऍलआइपी • पीओऍडडट • इण्डललनतस • अक्षिग्राम ननपुण  शब्दकोश एवं ज्ञानकोष िकनीकी शब्दावली • शब्दकोश.कॉम • ई-महाशब्दकोश • टहंदी शब्दसागि • टहन्दी ववर्कपीडडया • सविज्ञ ववर्क • कवविाकोश • टहन्दी ववश्वकोश • भाििकोश [1]  संगठन सी-डैक • अक्षिग्राम नेटवकि • ई-पक्ण्डि लैब्स • सिोवि.ऑगि • वपनाक संस्था • सिाय संस्था • [लशल्पा]  इण्टिनेट टहन्दी में वेबसाइटों की एक सूची • टहन्दी धचट्ठाजगि • अक्षिग्राम नेटवकि • टहन्दी अन्िजािल पबत्रकाओं की सूची  अन्य वििनी जााँचक • इक्ण्डक कम्प्यूटटंग • टहन्दी समथिन युति सॉफ्टवेयिों की सूची
  17. 17. र्माइक्रोसॉफ्ट ववण्िोज़  माइक्रोसॉफ्ट ववण्डोज़ सवािधिक लोकवप्रय डैस्कटॉप प्रचालन िन्त्र (ऑपिेटटंग लसस्टम) है। ववण्डोज़ ऍतसपी िथा ववण्डोज़ ७ वििमान में दो सबसे प्रचललि ववण्डोज़ संस्किण हैं। इनमें से ववण्डोज़ ऍतसपी में टहन्दी समथिन है पिन्िु इसे कं ट्ोल पैनल में जाकि सक्षम किना पडिा है िथा इस कायि हेिु ववण्डोज़ सीडी की आवश्यकिा होिी है। इस कायि को सिल बनाने के ललये लेखक द्वािा ननलमिि IndicXP नामक औजाि उपलब्ि है जो यह कायि बबना ववण्डोज़ सीडी की आवश्यकिा के स्वचाललि रूप से कि देिा है। ववण्डोज़ ७ में इक्ण्डक सपोटि पहले से सक्षम होिा है। आगामी ववण्डोज़ ८ भी इस मामले  टहन्दी टंकण के ललये ववण्डोज़ में टहन्दी का मानक इक्न्स्क्र्ट कीबोडि अन्िननिलमिि होिा है क्जसे कं ट्ोल पैनल के रिजनल ऍण्ड लैंग्वेज ऑ्शन्स में जाकि जोडना होिा है। फोनेटटक िथा िेलमंगटन लेआउट द्वािा टंकण के ललये आपको बाहिी औजाि इंस्टाल किने पडिे हैं। फोनेटटक के ललये Google IME िथा िेलमंगटन के ललये Indic IME प्रचललि औजाि हैं। ववण्डोज़ का यूजि इंटिफे स भी टहन्दी में र्कया जा सकिा है। इसके ललये माइक्रोसॉफ्ट की वेबसाइट पि Language Interface Pack उपलब्ि है। में टहन्दी लमत्र है।
  18. 18. ललनतस  ललनतस के अधिकिि नये ववििणों में टहन्दी आटद भाििीय भाषाओं के प्रदशिन हेिु समथिन पहले से सक्षम होिा है। हालााँर्क टैतस्ट इनपुट एवं स्थानीय भाषाई इंटिफे स हेिु उस भाषा का सपोटि सक्षम किना पडिा है। अधिकिि प्रचललि ववििणों जैसे उबुंटू, ललनतस लमंट िथा िैडहैट आटद में इंस्टालेशन के समय ही वााँनछि भाषा का ववकल्प चुनकि इक्ण्डक सपोटि सक्षम र्कया जा सकिा है। यटद इंस्टालेशन के समय नहीं र्कया गया िो बाद में इंटिनेट से कनैतट होकि यह सक्षम र्कया जा सकिा है। ललनतस में टहन्दी टंकण हेिु इक्न्स्क्र्ट कीबोडि अन्िननिलमिि होिा है। कु छ संस्किणों में बोलनागिी नामक फोनेटटक कीबोडि भी होिा है। ये कीबोडि इसकी सैटटंग्स में जाकि SCIM या iBus के द्वािा जोडे जा सकिे हैं। ललनतस का यूजि इंटिफे स लगभग पूिी ििह टहन्दी में उपलब्ि है।
  19. 19. मॅक ओऍस  ऍपल के डैस्कटॉप ऑपिेटटंग लसस्टम मॅक ओऍस में संस्किण १० (ओऍस ऍतस) से भाििीय भाषाई समथिन टदया जाना शुरु हुआ था। संस्किण १०.७ में लगभग सभी भाििीय भाषाओं का समथिन आ चुका है। टहन्दी इनपुट के ललये इक्न्स्क्र्ट कीबोडि अन्िननिलमिि होिा है क्जसे सैटटंग्स में जाकि जोडना पडिा है। ओऍस ऍतस में अभी टहन्दी इंटिफे स नहीं है।
  20. 20. आइओऍस  आइओऍस ऍपल का मोबाइल ऑपिेटटंग लसस्टम है जो र्क आइफोन (ऍपल का स्माटिफोन), आइपॉड टच (ऍपल का पोटेबल म्पयूक्जक ्लेयि) िथा आइपैड (ऍपल का टैबलेट) में प्रयुति होिा है। आइओऍस ४.x से इसमें पूणि टहन्दी प्रदशिन समथिन आ गया।  आइओऍस का इंटिफे स िो टहन्दी में नहीं पि निधथ िथा समय आटद में नाम िथा अंक देवनागिी में देखे जा सकिे हैं। आइओऍस के नये संस्किण ५ में टहन्दी कीबोडि आ गया है क्जससे डडवाइस में कहीं भी सीिे टहन्दी में ललखना सम्पभव हो गया है।
  21. 21. ऍण्रॉइि  ऍण्रॉइड गूगल का मोबाइल ऑपिेटटंग लसस्टम है जो र्क ववलभन्न स्माटिफोन एवं टैबलेट ननमाििाओं द्वािा अपने उपकिणों में प्रयुति र्कया जािा है। ऍण्रॉइड में संस्किण २.३ (क्जंजिब्रैड) िथा ३.x (हनीकॉम्पब) िक में टहन्दी प्रदशिन समथिन नहीं है। कु छ स्माटिफोन ननमाििाओं ने अपने कु छ मॉडलों में अपने स्िि पि फमिवेयि को संशोधिि किके टहन्दी समथिन उपलब्ि किाया है। ऍण्रॉइड के नवीनिम संस्किण ४.० (आइस क्रीम सैंडववच) में टहन्दी, बंगाली िथा िलमल भाषाओं का समथिन आ गया है। टहन्दी इनपुट के ललये अभी अन्िननिलमिि कीबोडि नहीं है। गूगल ्ले (ऍण्रॉइड का ऍक््लके शन स्टोि) से Go Keyboard, MultiLing Keyboard आटद टहन्दी कीबोडि इंस्टाल र्कये जा सकिे हैं।  इनके अनिरिति कु छ अन्य मोबाइल ऑपिेटटंग लसस्टम हैं – लसक्म्पबयन, ववण्डोज़ फोन िथा ब्लैकबेिी ओऍस। लसक्म्पबयन में आाँलशक टहन्दी समथिन है यानन कु छ संस्किणों में थोडा बहुि टहन्दी समथिन है। ववण्डोज़ फोन में टहन्दी समथिन र्फलहाल बबलकु ल नहीं है। ब्लैकबेिी ओऍस में संस्किण ६ से टहन्दी समथिन आया।
  22. 22. ह धदी सिंिणन सम्बधिी औजार  टहन्दी संगणन औजािों की बाि होने पि सबसे पहले टंकण औजािों की बाि आिी है। लगभग सभी ऑपिेटटंग लसस्टमों में मानक इक्न्स्क्र्ट कीबोडि अन्िननिलमिि होिा है। टहन्दी टंकण के ललये सामान्य मोबाइल फोनों पि T9 इनपुट व्यवस्था िथा टचस्क्रीन फोनों पि इक्न्स्क्र्ट ऑनस्क्रीन कीबोडि होिा है।  टहन्दी एवं दूसिी भाषाओं के मध्य दूिी पाटने के ललये मशीनी लल्यन्ििण िथा मशीनी अनुवाद सेवायें उपलब्ि हैं। मशीनी लल्यन्ििण सेवाओं द्वािा देवनागिी एवं अन्य भाििीय ललवपयों के मध्य परिवििन सम्पभव है। इनके प्रयोग से आप र्कसी पंजाबी में ललखे वेबपेज को पलक झपकिे ही देवनागिी में पढ़ सकिे हैं। दूसिी ओि मशीनी अनुवाद सेवायें इिनी बेहिि िो नहीं पि र्कसी दूसिी भाषा में ललखी सामग्री का टहन्दी में अथि समझने में कु छ सहायिा कि देिी हैं। मशीनी अनुवाद के ललये गूगल ट्ााँसलेट, मन्त्र-िाजभाषा िथा बबंग ट्ााँसलेटि आटद कु छ सेवायें हैं।
  23. 23. ह धदी सिंिणन सम्बधिी औजार  ओसीआि िकनीक र्कसी इमेज में से टैतस्ट को पहचान कि उसे सम्पपादन योग्य टैतस्ट में बदलिी है। ओसीआि मुटिि टहन्दी सामग्री के डडक्जटलीकिण के ललये एक महत्वपूणि औजाि है। अंग्रेजी के ललये जहााँ कई ओसीआि हैं वहीं टहन्दी के ललये काफी हद िक सही परिणाम देने वाला टहन्दी/संस्कृ ि ओसीआि नामक एक ही औजाि है। इस टदशा में अभी औि काम र्कया जाना बाकी है।  इलैतट्ॉननक शब्दकोष र्कसी शब्द का अथि, उच्चािण आटद ढूाँढना सिल बनािे हैं। टहन्दी के ललये शब्दकोष.कॉम, ई-महाशब्दकोश, अिववन्द-लैक्तसकन, ववतशनिी आटद ऑनलाइन शब्दकोष हैं। इनके अनिरिति कई ऑफलाइन इलैतट्ॉननक शब्दकोष भी उपलब्ि हैं। र्कसी दस्िावेज में टंर्कि टहन्दी सामग्री हेिु कई वििनी जााँचक (स्पैल चैकि) भी उपलब्ि हैं। यद्यवप वेब पि काफी टहन्दी सामग्री उपलब्ि है पि ईबुतस रूप में नहीं। कु छ पुस्िकें स्कै न कि पीडीऍफ फॉमेट में उपलब्ि हैं पि ईबुतस के प्रचललि फॉमेटों में अभी काफी कम हैं।  पाठ से वाक् ऐसे सॉफ्टवेयि िन्त्र होिे हैं जो टैतस्ट को पढ़कि सुनािे हैं। इन्हें TTS (Text to Speech) भी कहा जािा है। टहन्दी के ललये ऐसे कई प्रोग्राम हैं िथा उनका प्रदशिन भी अच्छा है। इनमें फै क्स्टवल, वॉजमी, वाचक वडि ्लगइन, ध्वनन, शक्ति इत्याटद शालमल हैं।
  24. 24. ह धदी सिंिणन सम्बधिी औजार  दूसिी ओि वाक् से पाठ ऐसे िन्त्र होिे हैं जो माइक्रोफोन में बोली गयी ध्वनन को इनपुट के िौि पि लेकि उसे टैतस्ट में बदलिे हैं। अंग्रेजी के ललये जहााँ ऐसे कई प्रोग्राम हैं वहीं टहन्दी के ललये एकमात्र प्रोग्राम सीडैक का श्रुिलेखन-िाजभाषा है। सही सैटटंग किने पि यह काफी हद िक सही परिणाम देिा है।  प्रकाशन उद्योग द्वािा ग्रार्फतस एवं डीटीपी हेिु मुख्यििः कोिल रॉ, अडॉबी फोटोशॉप िथा अडॉबी इनडडजाइन आटद पैके जों का उपयोग र्कया जािा है। इनमें इक्ण्डक यूननकोड का समथिन न होने से टहन्दी में कायि किने हेिु पुिाने नॉन-यूननकोड फॉण्टों का प्रयोग र्कया जािा था। अब अडॉबी के उत्पादों के CS6 संस्किण में िथा कोिल रॉ X6 में टहन्दी समथिन आने से इन पैके जों में टहन्दी में कायि किना सिल हो गया है।  फॉण्ट कोड परिवििक ऐसे कन्वटिि प्रोग्राम हैं जो पुिाने ऑस्की फॉण्टों (जैसे कृ निदेव, चाणतय आटद) में टंर्कि टहन्दी सामग्री को यूननकोड में बदलिे हैं। कई मुफ्ि कन्वटिि प्रोग्राम उपलब्ि हैं क्जनसे आप पुिानी ऍन्कोडडंग में टंर्कि टहन्दी सामग्री को वेब पि प्रकाशन हेिु यूननकोड में बदल सकिे हैं।  (ववजुअल स्टू डडयो २०१० में एक टहन्दी भाषाई ऍक््लके शन)  वििमान में अधिकिि सभी नई प्रोग्रालमंग भाषाओं िथा डाटाबेस लसस्टमों में टहन्दी यूननकोड समथिन आ चुका है। डॉट नेट िथा जावा में टहन्दी भाषाई ऍक््लके शन बनायी जा सकिी हैं। ववलभन्न वेब प्रोग्रालमंग भाषाओं द्वािा टहन्दी भाषाई वेब अनुप्रयोग ववकलसि र्कये जा सकिे हैं।
  25. 25. ह धदी वेबसाइटें एविं वेब सेवायें  यूननकोड के आगमन के बाद टहन्दी वेबसाइटों की संख्या िेजी से बढ़ी है। पहले जहााँ अधिकिि टहन्दी वेबसाइटें नॉन-यूननकोड फॉण्टों में होने से आमजन िक नहीं पहुाँच पािी थी वहीं अब नयी वेबसाइटों के अनिरिति अधिकिि पुिानी साइटें भी यूननकोडडि हो चुकी हैं। यूननकोड में बनी वेबसाइटें बबना फॉण्ट के झमेले के पढ़ी जा सकिी हैं िथा ये सचि इंजनों द्वािा भी सूचीबद्ि की जािी हैं। आज अधिकिि टहन्दी समाचाि-पत्रों की वेबसाइटें हैं। इसके अनिरिति अनेक मनोिंजन पोटिल, ईकॉमसि वेबसाइटें आटद भी टहन्दी में हैं। दूसिी ओि ववर्कपीडडया, ववर्कट्ैवल, भाििकोश आटद ज्ञानवििक ववश्वकोष भी हैं।
  26. 26. ह धदी वेबसाइटें एविं वेब सेवायें  वििमान में अधिकिि सचि इंजन यथा गूगल, बबंग आटद टहन्दी यूननकोड खोज का समथिन कििे हैं। टहन्दी खोज के मामले में गूगल का प्रदशिन अन्य सचि इंजनों की िुलना में बेहिि है। गूगल का इंटिफे स टहन्दी एवं अन्य दूसिी भाििीय भाषाओं में भी उपलब्ि है। ईमेल की बाि किें िो वैसे िो अधिकिि वििमान ईमेल सेवायें टहन्दी यूननकोड का समथिन कििी हैं पिन्िु गूगल की जीमेल टहन्दी के ललये सवोत्तम है। जीमेल में टहन्दी में मेल ललखने हेिु गूगल का ट्ााँसललट्ेशन टूल भी इनबबल्ट है।  टहन्दी धचट्ठाकािी की इंटिनेट पि टहन्दी के प्रचाि-प्रसाि में महत्वपूणि भूलमका िही है। सन २००२ में ‘नौ दो ग्यािह’ नामक धचट्ठे से आिम्पभ होकि आज टहन्दी धचट्ठों की संख्या लगभग ३०,००० िक पहुाँच गयी है। यद्यवप अब भी टहन्दी धचट्ठाजगि अंग्रेजी धचट्ठाजगि क्जिना ववस्िृि नहीं पि यह ननिन्िि प्रगनि कि िहा है। टहन्दी धचट्ठाकािी ने कम्प्यूटि औि इंटिनेट पि टहन्दी में रुधच िखने वाले ववलभन्न लोगों का समुदाय ववकलसि किने में सहायिा की है। ब्लॉगि िथा वडिप्रैस के ब्लॉग ्लेटफॉमि टहन्दी के ललये उपयुति हैं।
  27. 27. डिप्जटि ह धदी का िववष्य  कम्प्यूटि, लैपटॉप, स्माटिफोन िथा टैबलेट आटद डडक्जटल उपकिण हमािे दैननक जीवन का टहस्सा बन चुके हैं। आजकल लगभग इन सभी उपकिणों में टहन्दी में काम किना सम्पभव है। भाषाई समथिन ने िकनीकी ववभाजन की दूिी को पाटने में महत्वपूणि भूलमका ननभायी है। यूननकोड लसस्टम ने टहन्दी को सभी कम्प्यूटटंग डडवाइसों िक पहुाँचा टदया है। यूननकोड लसस्टम के कािण कम्प्यूटि पि टहन्दी एवं अन्य भाििीय भाषाओं में काम किना अंग्रेजी जैसा ही सिल हो गया है। इसी कािण अब इंटिनेट पि टहन्दी धचट्ठों िथा वेबसाइटों की भिमाि है।  ऑपिेटटंग लसस्टमों की बाि किें िो माइक्रोसॉफ्ट ववण्डोज़, ललनतस िथा ऍपल के मॅक ओऍस आटद डैस्कटॉप ऑपिेटटंग लसस्टमों के अनिरिति आइओऍस िथा ऍण्रॉइड जैसे मोबाइल ऑपिेटटंग लसस्टमों में भी इक्ण्डक यूननकोड का समथिन आ गया है। कम्प्यूटि पि ऑर्फस सुइट जैसे माइक्रोसॉफ्ट ऑर्फस, ललब्रेऑर्फस इत्याटद में भाििीय भाषाओं में ठीक उसी ििह काम र्कया जा सकिा है जैसे अंग्रेजी में। फलस्वरूप कम्प्यूटि पि भाििीय भाषायें अब के वल टाइवपंग िक सीलमि न िहकि शॉटटिंग, इंडैक्तसंग, सचि, मेल मजि, हैडि-फु टि, फु टनोट्स, टट्पणणयााँ (कमेंट) आटद सब कम्प्यूटिी कायों में सक्षम हो गयी हैं। यहााँ िक र्क आप फाइलों के नाम भी टहन्दी (या र्कसी अन्य भाििीय भाषा) में दे सकिे हैं।
  28. 28. डिप्जटि ह धदी का िववष्य  वििमान में ववण्डोज़ युति कम्प्यूटिों में ववण्डोज़ ऍतसपी औि ववण्डोज़ ७ की लगभग बिाबि टहस्सेदािी है िथा आगामी लगभग पााँच वषों में ववण्डोज़ ७ ववण्डोज़ ऍतसपी का स्थान ले लेगी। अथािि आने वाले वषों में लगभग सभी कम्प्यूटिों में टहन्दी समथिन पूिी ििह अन्िननिलमिि होगा। प्रकाशन उद्योग द्वािा अत्यधिक उपयोग र्कये जाने वाले ग्रार्फतस िथा डीटीपी पैके जों फोटोशॉप, कोिलरॉ िथा इनडडजाइन आटद में टहन्दी यूननकोड समथिन आने से भववष्य में प्रकाशन उद्योग भी यूननकोड को अपनायेगा। यूननकोड के प्रनि बढ़िी जागरुकिा औि प्रकाशन के सॉफ्टवेयि पैके जों के यूननकोड लमत्र संस्किण आने के मद्देनजि इस दशक के अन्ि िक कम्प्यूटि औि इंटिनेट पि सािा कायि यूननकोड टहन्दी में होने लगेगा।  इंटिनेट पि भी अब अन्ििािष्ट्ीय वणि-कू ट मानक यूननकोड खूब लोकवप्रय हो िहा है औि सभी प्रमुख वेबसाइटें जैसे गूगल, ववर्कपीडडया आटद इसे अपना चुकी हैं। यूननकोड आिारिि वेबसाइटों को देखने के ललये पाठक के पास सम्पबक्न्िि फॉण्ट होने की अननवायििा भी नहीं है। अगि कोई वेबसाइट यूननकोड में है िो उसे र्कसी भी यूननकोड सक्षम कम्प्यूटि पि देखा जा सकिा है। यूननकोड की लोकवप्रयिा संसाि भि में टदन-दूनी िाि-चौगुनी बढ़िी जा िही है िथा इसके साथ ही टहन्दी िथा अन्य भाििीय भाषाओं में भी वेबसाइट, ब्लॉग, ऑनलाइन वेब आिारिि औजािों/उपकिणों/सुवविाओं का प्रयोग िडािड बढ़िा जा िहा है। ईमेल में सीिे टहन्दी में सम्पप्रेषण र्कया जा िहा है। मोबाइल फोन पि भी टहन्दी िथा अन्य भाििीय भाषाओं में संक्षक्ष्ि सन्देश (SMS) िथा इंटिनेट संचाि र्कया जाने लगा है।
  29. 29. डिप्जटि ह धदी का िववष्य  टहन्दी संगणन सम्पबन्िी सॉफ्टवेयि औजािों की बाि किें िो टहन्दी टंकण, मशीनी लल्यन्ििण, मशीनी अनुवाद, शब्दकोष, वििनी जााँच, पाठ से वाक् िथा फॉण्ट परिवििक आटद िन्त्र लगभग पूिी ििह सुलभ हो चुके हैं। ओसीआि िथा श्रुिलेखन (वाक् से पाठ) के क्षेत्र में औि ववकास की आवश्यकिा है। ये टहन्दी सामग्री के डडक्जटलीकिण हेिु दो सबसे महत्वपूणि सॉफ्टवेयि हैं। ववलभन्न प्रोग्रालमंग भाषायें औि डाटाबेस भी टहन्दी समथिन युति हैं। मॅक ओऍस को छोडकि अधिकिि ऑपिेटटंग लसस्टमों का टहन्दीकिण हो चुका है। मोबाइल ्लेटफॉमों िथा उपकिणों पि भी टहन्दी सुलभ होिी जा िही है। कु ल लमलाकि टहन्दी कम्प्यूटटंग का अब िक का ववकास सन्िोषपूणि है िथा भववष्य सही टदशा में है।

×